वजन घटाने के आसान तरीके [Easyways to reduce weight]

Posted On: 12 Jul, 2012 मेट्रो लाइफ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अति व्यस्त दिनचर्या से जूझते हुए निशा अपने खानपान पर जरा भी ध्यान नहीं दे पा रही है. ऑफिस में काम के बीच फास्ट-फूड खाकर पेट भर लिया तो कभी लंच ना कर शाम को कुछ खा लिया. बिगड़ती डाइट और एक्सरसाइज के लिए समय ना निकाल पाने के कारण ना चाहते हुए भी निशा का वजन बढ़ता जा रहा है.


जहां निशा को काम के बीच अपने लिए समय नहीं मिल पा रहा वहीं रोहित पढ़ाई के चलते अपने खानपान को अनदेखा कर रहा है. वह कभी सुबह का नाश्ता छोड़ देता है तो कभी ट्यूशन के चक्कर में उसका दोपहर का खाना मेज पर ही रह जाता है. शाम को दोस्तों के साथ बाहर का खाना खाकर वह अपने शरीर में कैलोरी की मात्रा को बढ़ा रहा है. घर का बना संतुलित खाना उसके लिए बेस्वाद बनता जा रहा है.


lose-weightअसंतुलित आहार और जंकफूड का अत्याधिक सेवन करना आज के युवाओं की दिनचर्या में प्रमुखता के साथ शामिल हो गया है. इतना सब होने के बाद भी वह यह उम्मीद करते हैं कि उनका वजन ना बढ़े. खैर, फिट रहना आज के युवाओं समेत सभी आयु वर्ग के लोगों की पहली प्राथमिकता बन गई है. लेकिन पर्याप्त समय ना होने के कारण वह इस ओर ध्यान नहीं दे पाते और अंत में वजन कम करने को लेकर परेशान रहने लगते हैं. विशेषज्ञों का तो यह भी कहना है कि बढ़ता वजन व्यक्ति को अवसाद ग्रस्त भी बना सकता है.


Make-up tips for girls


अगर आप भी अपने बढ़ते वजन को नियंत्रित करना चाहते हैं या कम करना चाहते हैं तो हाल ही में एक अध्ययन और उसकी स्थापनाएं आपके लिए बहुत अधिक सहायक सिद्ध हो सकती हैं. एक भारतीय शोधकर्ता की अगुवाई वाले इस शोधी दल ने अपने एक अध्ययन में यह बात प्रमाणित की है कि अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आप धीरे-धीरे और छोटी-छोटी मात्रा में खाना खाएं. लंदन स्थित एरिजोना स्टेट यूनिवर्सिटी द्वारा हुए इस शोध में यह बात सामने आई है कि डाइट पर जाने वाले वे लोग जो वजन कम करने के लिए प्रायासरत हैं उन्हें अपने खाने को छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटकर खाना चाहिए.


इस सर्वेक्षण से संबंधित रिपोर्ट डेली मेल में प्रकाशित की गई जिसके अनुसार मुख्य शोधकर्ता डेविना वढेरा का कहना है कि अगर आप कम-कम मात्रा या छोटे-छोटे टुकड़ों में खाना खाते हैं तो इससे आपको अधिक संतुष्टि का अहसास होता है. इसके अलावा जब आपको खाने में अधिक देर लगती है तो आपको यह भी लगने लगता है कि आपने ज्यादा खाना खा लिया है. इसका सीधा असर आपके द्वारा सेवन की जाने वाली खाने की मात्रा पर पड़ता है और आप कम खाते हैं.


उपरोक्त अध्ययन को अगर हम भारतीय परिदृश्य के अनुसार देखें तो डाइट पर जाने या वजन करने के इच्छुक लोगों की यहां भी कोई कमी नहीं है. ऐसे में अगर इस अध्ययन की स्थापनाओं को गंभीरता से लिया जाए तो इससे भले ही कोई खास लाभ ना हो लेकिन निश्चित तौर किसी प्रकार का नुकसान तो नहीं होने वाला.


आप लव-मैरेज करेंगे या अरेंज




Tags:               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

111 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Maryland के द्वारा
May 21, 2016

I actually found this more entnrtainieg than James Joyce.

deepaksharmakuluvi के द्वारा
July 13, 2012

very useful……… deepak kuluvi




अन्य ब्लॉग

latest from jagran