blogid : 313 postid : 653833

क्या पत्नी के इशारों पर नाचते हैं आप ?

Posted On: 26 Nov, 2013 मेट्रो लाइफ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

married coupleकहते है किसी भी इंसान के जीवन में शादी बहुत बड़ा बदलाव लाती है. वैसे समाजिक परंपराओं के अनुसार विवाहोपरांत महिलाओं को अपना घर छोड़कर पति के साथ उसके घर यानि अपने ससुराल जाना होता है इसलिए उनके लिए तो वैसे भी यह किसी नई शुरुआत से कम नहीं कहा जा सकता. वहीं दूसरी ओर वे लोग जो ये सोचते हैं कि शादी के बाद सिर्फ एक लड़की की जिन्दगी ही बदलती है तो हम आपको बता दें कि पुरुष का जीवन भी पहले की तरह नहीं रह पाता. एक लड़की को अपने साथ, अपने घर लाने के बाद वह उसकी जिम्मेदारी बन जाती है जिसे कह चाहकर भी अलग नहीं कर सकता. विवाह के बाद पुरुष का जीवन भी उसी तरह बदलता है जिस तरह एक महिला का बदलता है. चलिए हम आपको बताते हैं कि शादी,पुरुष के जीवन में क्या-क्या परिवर्तन लाती है और विवाहित होने के बाद उस बेचारे को क्या-क्या समझौते करने पड़ सकते हैं:



मानसिक शांति: आप माने या ना माने विवाह के बाद पुरुष अपनी मानसिक शांति तो खो ही देते हैं. वे पुरुष जो सोचते हैं कि वह तो लव मैरेज करने जा रहे हैं, वे तो अपनी होने वाली पत्नी को जानते हैं-समझते हैं, उन्हें तो सामंजस्य बैठाने में कोई समस्या नहीं आएगी उन्हें भी शादी के बाद प्यार के साइड-इफेक्ट्स को भुगतना पड़ता है. बढ़ती पारिवारिक जिम्मेदारियों की वजह से कहीं ना कहीं आपको अपनी मानसिक शांति खोनी ही पड़ती है.



मां का प्यार: सास-बहु के झगड़ों में अगर कोई पिसता है तो वह है बेचारा बेटा. ना तो वह खुलकर अपनी मां का सपोर्ट कर सकता है और ना ही मां के सामने बीवी का साथ दे सकता है. इसलिए आखिर में आपको यही डिसाइड करना पड़ता है कि आप दोनों की ही साइड नहीं लेंगे.



दोस्त: विवाह से पहले आप हर संडे दोस्तों के साथ आउटिंग पर जाते थे, ऑफिस से जल्दी आकर दोस्तों के साथ टाइम बिताने जाते थे लेकिन अब आपकी हर छुट्टी, थोड़ा सा भी एक्स्ट्रा टाइम सिर्फ और सिर्फ आपकी पत्नी का है. अब ये आपकी जिम्मेदारी है, हर समय, हर मौके पर अपनी पत्नी को महत्वपूर्ण साबित करना.


ब्वॉयफ्रेंड को मैसेज किया तो हो जाएगा ब्रेक-अप


मेल ईगो: कभी आप अपनी इसी खूबी की वजह से फ्रेंड सर्कल की जान हुआ करते थे लेकिन अफसोस शादी के बाद आपकी पत्नी आपकी मेल ईगो पर भारी पड़ गई. शादी से पहले आपने कभी घर के कामों मे अपनी मां की मदद इसलिए नहीं की होगी क्योंकि ये तो लड़कियों वाले काम हैं, लेकिन अब पत्नी का कहा तो आप टाल ही नहीं सकते. इसलिए किचन में, बच्चों को संभालने में आपको उनकी हेल्प करनी ही पड़ेगी.



जमापूंजी छू मंतर: विवाह से पहले आपने अपनी पॉकेट मनी जोड़ी होगी, सेविंग की होगी लेकिन शादी के बाद जब आपको पत्नी का खर्च उठाना पड़ता है तो आपकी ना तो ना तो मनी रह जाती है और ना ही सेविंग.


इस ड्रेस से आप कभी बोर नहीं होंगे


आजादी: सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण समझौता होता है आजादी खोने का गम. वैसे तो लेडीज भी आजकल अपनी फ्रीडम खोने नहीं देना चाहती लेकिन थोड़ा बहुत अंतर तो पड़ता ही है. पुरुष भी इस मसले में अपवाद नहीं है क्योंकि शादी के बाद तो उन्हें भी हर जगह अपनी पत्नी के साथ जाना होता है और इतना ही नहीं दोस्तों के साथ अगर कभी बाहर चले भी जाएं तो पत्नी को अपने हर कदम की जानकारी देनी पड़ती है.

खा-पीकर करें वजन कम!!

प्यार के लिए चार पल कम नहीं हैं…..





Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Saj के द्वारा
December 5, 2013

Good Night


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran