blogid : 313 postid : 663789

कहीं आप ऑनलाइन शॉपिंग के बीमार तो नहीं!!

Posted On: 22 Oct, 2014 lifestyle में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आज की डेट में हर कोई टेक्नो-फ्रेंडली होना चाहता है. टेक्नो-फ्रेंडली होना आज एक प्रकार का फैशन तो बन ही गया है लेकिन इससे भी ज्यादा यह एक जरूरत है. आज की लाइफ में जब दुनिया 9-6 की प्राइवेट नौकरी में सिमट गई है, टेक्नो-फ्रेंडली होकर आप इस व्यस्त दिनचर्या में अपनी हर जरूरत बिना कहीं गए पूरी कर सकते हैं. चैटिंग से दोस्तों से गपशप-मस्ती, ऑनलाइन बैंकिंग, शॉपिंग आदि जाने कितने काम हैं जो आप इस तरह बिना ज्यादा समय गंवाए पूरा कर सकते हैं.


shopping


ऑनलाइन शॉपिंग भी आज की लाइफस्टाइल की इन्हीं जरूरतों में एक है. आज किसी के पास इतना वक्त नहीं होता कि वह बाहर जाकर 4-5 घंटे शॉपिंग में बिताए. बिताए भी तो कभी-कभार ही यह मुमकिन हो पाता है लेकिन कपड़ों की बात हो या क्रॉकरी या डेकोरेशन, फैशन तो हर दो दिन में आउटडेटेड हो जाता है. ऐसे में ऑनलाइन शॉपिंग से लोग फैशन और जरूरत को धड़ल्ले से पूरी करते हैं लेकिन बहुत ज्यादा आनलाइन शॉपिंग आपको नुकसान पहुंचा सकती है.

online shoping addiction


न्यूयॉर्क की पत्रिका हफिंगफन पोस्ट की मानें तो अगर आप बहुत ज्यादा ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तो यह आपके एडिक्शन की निशानी है. मतलब धीरे-धीरे जरूरत से बढ़कर आप इसके आदी हो गए हैं और यह आपका बजट खाली कर आपको मानसिक रूप से परेशान कर सकता है. आदत में शामिल हो जाने के कारण कोई जान नहीं पाता कि वह ऑनलाइन शॉपिंग का आदी हो चुका है.


Read: दिवाली में ऑनलाइन शॉपिंग है फायदे का सौदा


यहां कुछ आदतें दी गई हैं अगर आप भी इनमें से किसी एक के शिकार हैं मतलब यदि आप ऑनलाइन शॉपिंग के एडिक्ट हो चुके हैं तो आपको इस पर लगाम कसने की जरूरत है:

-अगर आपके मेल बॉक्स में फालतू मेलर ज्यादा आने लगें जिनमें ज्यादातर शॉपिंग साइट्स के मेलर हों.


-अगर ऑफिस में भी अपने ब्राउजर में या फोन पर भी एक ब्राउजर आप शॉपिंग कार्ट की हमेशा खोलकर रखें.


-अगर आप हमेशा एक नई चीज खरीद लें जिसकी आपको जरूरत भी न हो और आपको लगे आपने इसे खरीद क्यों लिया.


internetShop


Read: मूड कैसा भी हो…ये सब तो करना ही है, जानिए लड़कियों के सिर पर कौन सा भूत अक्सर सवार होता है


-अगर आपको हर दिन बाजार में नया क्या आया है या नई शॉपिंग साइट कौन सी आई है, इसे चेक करने की आदत हो.


-अगर आप गलती से एक ही चीज दुबारा खरीद लें.


-अगर आपके मेल में बहुत से प्रमोशनल मेल आते हों.


Too much shopping


-अगर किसी सेल का मेल आते ही उसे चेक करने के लिए आप उतावले हो जाते हों.


-अगर पैकेट मिलने के बाद आपको याद आता हो कि आपने इसे ऑर्डर किया था.


-अगर आपका डस्टबिन खाली पड़े फालतू कार्डबोर्ड बॉक्सेस से भरने लगे.


Read:

बेडरूम की निजी बातों को पत्नी ने इंटरनेट पर किया शेयर, पढ़कर पति हुआ शर्मसार


बड़े-बड़े स्टार्स का ‘सेंस ऑफ ह्यूमर’ भी आपके सामने फीका पड़ सकता है यदि आपके अंदर ये गुण हों…


पढ़िए अपने साथी की वफादारी जांचने के कुछ आसान तरीके



Tags:                         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Caroline के द्वारा
May 21, 2016

I was really confused, and this answered all my qunsoites.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran