blogid : 313 postid : 849126

जानिए, सपनों में इन चीजों के दिखने का क्या है मतलब!

Posted On: 9 Feb, 2015 lifestyle में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

ज़िंदगी और मौत के बीच केवल साँसों का अंतर होता है. नींद दोनों ही स्थितियों में आती है. सोते वक्त साँसों के चलने से व्यक्ति के जीवित होने का पता चलता है जबकि नींद में साँसों के न चलने से व्यक्ति के मृत होने का आभास. लेकिन आप यह जान कर जिज्ञासु हो उठेंगे कि नींद में साँसों के चलने के बाद भी मौत के संकेत मिलते हैं! सपनों में मिले ये संकेत कई बार रोमांचक होती है और कई बार कौतूहल पैदा करने वाली. लेकिन कई बार ये संकेत असल जिंदगी में ठीक वैसे ही घटित हो जाती है जैसा लोग इन्हें अपने सपनों में देखते हैं.



org drmz



रामायण में वर्णित प्रसंग इस बात की पुष्टि करते हैं कि सपनों की अपनी एक अलग दुनिया होती है. संकेतों की यह दुनिया आभासी होती है. वाल्मीकि रचित रामायण में यह उल्लेख मिलता है कि राजा दशरथ की मृत्यु से पहले उनके कनिष्ठ पुत्र भरत ने स्वप्न में अपने पिता को गाय के गोबर में तैरते देखा. काले कपड़े पहने दशरथ माथे पर सिंदूर का टीका लगाए यमराज की ओर बढ़े चले जा रहे थे.



Read: कम उम्र में इसने कर दिखाया वो जो हर युवा का सपना होता है



लोकमतों पर आधारित स्वप्न के कुछ विशिष्ट संकेत हैं जो सीधे मानवों के जीवन-मरण से जुड़े बताये जाते हैं जैसे सुप्तावस्था में भैंसे या साँड़ का दिखाई देना, रेगिस्तान में यात्रा करना आदि. इसके अलावा कोई भयावह स्वप्न देखते हुए अपने सबसे प्रिय स्वजन का नाम लेकर स्वयं को बचाने की गुहार लगाना.



snake




काली बिल्ली और साँपों का स्वप्न में दिखना भी अशुभ माना जाता है. अशुभ मानी जाने वाली काली बिल्ली के स्वप्न में दिखने को भूत-प्रेत और चुड़ैलों से जोड़कर देखा गया है. स्वप्न में दाँतों का टूटना अपने किसी स्वजन को खोने का बुरा संकेत है. रोते हुए नवज़ात का सपने में दिखना मृत्यु का द्योतक समझा जाता रहा है. पानी में डूबते लोगों का सपनों में दिखना भी खतरे की निशानी मानी जाती है.काफी लंबे समय से स्वप्न-संबंधी ये संकेत लोगों के दिलों में गहरी पैठ बनाए हुए हैं और आज के आधुनिक युग में भी ये किसी सामान्य जनमानस को डराने-सताने के लिए काफी है. Next…..





Read more:

महज एक साल की उम्र में इसने वो कर दिखाया जो किसी ने सपने में भी नहीं सोचा होगा, पढ़िए एक मासूम के संघर्ष की कहानी

ये नींद में करते हैं कुछ ऐसा जिसे जान दुनिया है दंग

जीवन के आखिरी पड़ाव में बनी मां, बनाया विश्व रिकॉर्ड




Tags:                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

RAJVEER SINGH के द्वारा
February 9, 2015

वहूूत अछा ह


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran