blogid : 313 postid : 1119272

एड्स पर बनी बॉलीवुड की ये हैं बोल्ड और बेबाक फिल्में, चली थी कई बार सेंसर की कैंची

Posted On: 1 Dec, 2015 मेट्रो लाइफ,Entertainment में

Pratima Jaiswal

  • SocialTwist Tell-a-Friend

‘अपने हमसफर से सच्चा प्यार किया होता साहब, तो इस जालिम बीमारी का शिकार नहीं होते, देखा, पता चल गया न एक पल में दुनिया को, कि आप बदनाम गलियों में हमारे तलवे चाटने आते थे.’ क्यों चौंक गए न! 2003 में बनी फिल्म ‘गुलाबी आइना’ के इस विवादास्पद डायलॉग को उस समय सेंसर बोर्ड भी पचा नहीं सका था. एचआईवी एड्स और समलैंगिक सम्बन्धों को उजागर करती इस फिल्म के ऐसे कितने ही बोल्ड डॉयलॉग्स पर सेंसर ने बड़ी बेदर्दी से कैंची चला दी थी. बेशक से भारत में ऐसी ही बोल्ड विषयों पर बनी फिल्मों का रास्ता हमेशा मुश्किलों से भरा रहा है.


gulabiumrao

न जाने ऐसी कितनी ही फिल्में हैं जिन्हें सेंसर से क्लीन चीट लेने के लिए अधिकतर सीन्स और डॉयलॉग्स पर कैंची चलवानी पड़ी या फिर डब्बा बंद हो गई. शायद यही कारण है कि भारत में बोल्ड विषयों पर अपेक्षाकृत कम ही फिल्में देखने को मिलती है. आलम ये है कि ऐसी फिल्में अगर बनती भी है तो दर्शकों के सीमित वर्ग तक ही पहुंच पाती है. क्योंकि खस्ता प्रोमोशन के चलते इन फिल्मों के आने-जाने का किसी को पता तक नहीं चलता. चलिए, ‘विश्व एड्स दिवस’ के मौके पर आपको ऐसी ही बोल्ड और बेबाक फिल्मों से रू-ब-रू करवाते हैं एचआईवी एड्स पर बनी खास फिल्मों से जो बॉक्स ऑफिस पर बेशक कामयाब न हो सकी लेकिन फिल्म समीक्षकों ने इसे बेहद सराहा.



गुलाबी आईना (द पिंक मिरर)

2003 में श्रीधर रंगायन द्वारा निर्देशित इस फिल्म में एचआईवी एड्स और समलैंगिक सम्बन्धों को अलग नजरिए से पेश करते हुए एक बेहद हास्यप्रद स्थिति को दिखाया गया है. गंभीर विषय पर बनी इस फिल्म ने बेहद हल्के-फुल्के अंदाज में लोगों की आम धारणा पर जोरदार प्रहार किया है. सब्बो, बिब्बों, मैंडी और समीर के प्रेम त्रिकोण पर बनी फिल्म ने दर्शकों को झकझोर कर रख दिया था. फिल्म में होमोसेक्सुलिटी की भावना को भी बखूबी दिखाया गया है.


The_Pink_Mirror


फिर मिलेंगे

साल 2004 में एड्स जैसे गंभीर विषय पर बनी इस फिल्म ने एड्स के मरीज के प्रति समाज के अजीब व्यवहार को दर्शाया गया है. अपने प्रेमी से मिले एड्स के कारण एक प्रतिभाशाली लड़की तमन्ना (शिल्पा शेट्टी) की जिदंगी किस कदर बदल जाती है. इसे फिल्म में बखूबी दिखाया गया है. इस बीमारी के कारण तमन्ना को ऑफिस से भी निकाल दिया जाता है. इस फिल्म में अपने दमदार अभिनय की बदौलत शिल्पा शेट्टी को फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया था. ढेरों अवॉर्ड जीतने के बाद भी फिल्म बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिरी थी.


fir

Read : सलमान की फिल्मों में काम कर इन हसीनाओं का कॅरियर हुआ चौपट


मॉय ब्रदर निखिल

डॉमिनिक डिसूजा के जीवन पर आधारित इस फिल्म में निखिल नाम के एड्स पीड़ित लड़के का किरदार संजय सूरी ने निभाया था. निखिल का स्पोर्ट्स मैन बनने का सपना उस वक्त टूट जाता है जब उसे अपने अपने एचआईवी पॉजिटिव का पता चलता है. उसकी इस लड़ाई में उसकी बहन अनामिका (जूही चावला) देती है. 2005 में बनी इस फिल्म को भी खास सफलता नहीं मिली थी. हांलाकि सभी किरदारों के अभिनय की खूब तारीफ हुई थी.



Read : 600 करोड़ रुपए कमाने वाली फिल्म ‘पीके’ से सुशांत को फीस के तौर पर मिले मात्र 21 रुपए


68 पेज

एक ट्रांसजेंडर बार डांसर,सेक्स वर्कर और एक गे के जीवन के इर्द-गिर्द घूमती इस फिल्म को 2007 में पर्दे पर उतारा गया था. फिल्म में मानसी का रोल निभा रही मौली गांगुली ने एक ऐसी लड़की का किरदार निभाया है जो किसी से भी भावनात्मक रूप से नहीं जुड़ना चाहती. वो लोगों को दिखाती हैं कि वो किसी से भी प्यार नहीं करती जबकि दूसरी तरफ अपनी 68 पेज की व्यक्तिगत डेयरी में उसने अपने जीवन के कई राज लिखे हुए हैं. फिल्म को ठीक-ठाक शुरुआत के साथ काफी सराहना मिली थी.



68 pages

मेघला आकाश

मूल रूप से बंग्लादेश में बंग्ला भाषा में बनी इस फिल्म का नाम भी लोग नहीं जानते. लेकिन भारत के कुछ हिस्सों में इस फिल्म को काफी सराहा गया था. फिल्म एक खूबसूरत लड़की मेघला के जीवन पर आधारित है. वो एक लड़के से प्यार करती है. लेकिन उसके अंकल दहेज देने की स्थिति में नहीं है. इस परेशानी से निकलने के चक्कर में मेघला एक नई मुसीबत में पड़ जाती है और न चाहते हुए भी जिस्मफरोशी के धन्धे में उतार दी जाती है. इसके बाद एड्स से उसकी लड़ाई शुरू होती है.


maghla akash

..Next


Read more :

निकला था इंटरनेट पर प्यार ढूंढ़ने पर अफसोस जेब पर चूना लग गया…

एक अभिनेत्री के सभी गुण हैं दिव्या श्री में, फिर क्यों चुना वेश्यावृत्ति का रास्ता

पढ़िए अपने साथी की वफादारी जांचने के कुछ आसान तरीके



Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran