blogid : 313 postid : 1176569

अगर आपको भी आती है ऑफिस में नींद तो यह खबर आपके लिए है

Posted On: 12 May, 2016 lifestyle में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

ऑफिस में लगातार काम करते-करते किसे नींद नहीं आती. जाहिर-सी बात है शारीरिक और मानसिक रुप से घटों काम में लगे रहने पर कोई भी इंसान थककर चूर हो जाएगा. लेकिन क्या कर सकते हैं? ऑफिस में सोना सख्त मना है. खासतौर पर जब आप भारत में हो. लेकिन इन बातों से परे एक व्यक्ति ऐसा भी है जिसने अपने नींद के अनुभवों से सबक लेकर दूसरे कर्मचारियों के लिए भी कुछ ऐसा किया, जिससे अब वो ऑफिस में भी भरपूर नींद ले सकते हैं.


tired man

Read : कर्मचारी नौकरी छोड़ने पर मजबूर हो इसलिए कंपनियां अपना रही है ये तरीका

दरअसल, 40 साल के दाइ शियांग नाम के व्यक्ति टेक कंपनी में काम किया करते थे. इस कंपनी में 72 घंटे की शिफ्ट में काम करने की वजह से दाइ इतना थक जाते थे कि वो ऑफिस के फर्श पर ही सो जाया करते थे. इसके बाद उन्होंने एक नई टेक कंपनी में 15 साल बिताए और यहां भी उनका यही हाल होता. काम से थोड़ा ब्रेक लेकर वो कभी ऑफिस के फर्श, कभी डेस्क और कभी कुर्सी पर सो जाया करते थे.


bed time



इसके बाद दाइ ने उबकर अपनी खुद की कंपनी ‘बैशन क्लाउड’ खोल ली. इस कंपनी को खोलते ही सबसे पहले दाइ ने बिजनेस ऑर्डर मिलने पर अपने ऑफिस में 12 बेड लगवाए. ऐसा करने की वजह बताते हुए दाइ कहते हैं कि ‘टेक्नालॉजी सेक्टर में दिमागी मेहनत इतनी ज्यादा होती है कि ऑफिस में नींद आना आम बात है. ऐसे में मैंने वही किया जिसकी कमी मुझे तब महसूस होती थी जब मैं बॉस नहीं कर्मचारी हुआ करता था.’


bed time 1



Read : भारत की इस फैक्टरी में कर्मचारियों का वेतन 9000, लेकिन बैंक बैलेंस करोड़ों में

गौरतलब है कि चीन में ऑफिस के समय सोना एक सामान्य बात है. वहां पर कई कंपनियों में कर्मचारियों के सोने के लिए सोफे और गोल बेड लगवाए जाते हैं. लेकिन टेक इंडस्ट्री में ऐसी कोई सुविधा नहीं है. दाइ ने इस अनोखी पहल से तकनीक जगत से जुड़े हुए ऑफिसों के लिए भी एक नया रास्ता खोल दिया है…Next

Read more :

घर या ऑफिस में अकेले होने से इंटरनेट पर आप इस तरह गँवा सकते हैं पैसे

सरकारी ऑफिस में ‘नागिन डांस’ करके यहां के लोगों ने जताया विरोध

पहली जॉब में 35, 50 और 500 रुपए कमाते थे करोड़ों में खेलने वाले ये पांच सितारे



Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Carlinda के द्वारा
May 21, 2016

I can’t believe you’re not playing with me-ath-t was so helpful.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran